Hindi IC-33 notes Chapter – 9

Published by IC38 Support on

अगले अध्याय के लिए यहा क्लिक करे

 

  • ग्राहक को प्रदत लाभों का विवरण उस राशी की मात्रा बताता है जिसे निवेश प्राप्ति कम होता है तथा यह कभी विभिन्न व्ययों पर प्रभाव डालता है
  • यदि कोई विवाहित युगल जिनकी आय भविष्य में
  • यदि किसी युगल का छोटा शिशु है तो हो सकता है वे बाल शिक्षा पॉलिसी लेना चाहते हो
  • यदि एक अभिकर्ता अपने ग्राहक को एक उत्पाद के गारंटीड लाभों के बारे में बताता है तो उसे लाभ विवरण प्रवत्र का प्रयोग करना चाहिए
  • यदि एक व्यक्ति के माता-पिता उस पर आश्रित है तो उसकी वरीयता जीवन बीमा लेना होगा
  • लाभ विवरण प्रपत्र गारण्टीड व गैर गारन्टीड लाभों के मध्य भेद से अवगत कराता है
  • बीमा उत्पाद में निवेश करने के बारे में अपने ग्राहक की मानसिक दशा को समझने हेतु अभिकर्ता को तथ्यों की जानकारी लेनी चाहिए
  • ग्राहक को हल प्रदान करने के प्रयास में अभिकर्ता को ग्राहक की आवश्यकताओ व् उत्पाद की विशेषताओ के मध्य एकरूपता स्थपित करने की प्रयास करना चाहिए
  • एक अभिकर्ता को ग्राहक की आवश्यकताओ के आधार पर एक सुझाना चाहिए
  • जोखिम का हस्तांतरण ही जोखिम प्रबंधन है
  • यदि एक व्यक्ति 25 वर्ष है सरकारी नोकरी है तथा वह अविवाहित है तो उसे उसके लक्शानुसार दीर्धकालीन प्लान हेतु सलाह देनी चाहिए
  • यदि कोई ग्राहक स्वास्थ्य सुरक्षा सबंधी हल चाहता हो तो हो सकता है वह सेवा निव्रती के चरण में है
  • तथ्यों की जानकारी की प्रक्रिया ग्राहक की आवश्यकताओ को पहचान में सहायता करती है
  • तथ्य प्राप्ति प्रक्रिया के समय अभिकर्ता को पहचान एवं मात्रात्मक तथा ग्राहक की आवश्यकताओ की प्राथमिकताओ को समझना चाहिए
  • यदि एक अभिकर्ता अपने व्यापारी ग्राहक को तथ्यों की जानकारी लेना चाहता है तो उसे ग्राहक के लाभ व् व्यापार से व्ययों निकासी आदि के बारे में जानना चाहिए तथा उसे व्यापारी की आय व् व्ययों के बारे में जानकारी सहायक होगी
  • यदि एक व्यक्ति अविवाहित है तथा किसी अच्छी कोमप्न्य में कार्यरत है तथा अच्छी तनख्याह है तथा उस पर को विशेष जिम्मेदारी नहीं है तो उसे यूलिप उत्पाद देना चाहिए
  • अनुशंसा के चरण के दौरान सलाहकार को अपने ग्राहक को उसकी आवश्यकतानुसार सर्वोतम पॉलिसी लेने हेतु प्रेरित करना चाहिए
  • यदि दो गग्राहकों की आवश्यकता अलग अलग है तो चाहे वे एक ही आयु वर्ग के हो तथा उनका एक जैसा प्रोफेशन हो तो यह मानना जरुरी नहीं है कि दोनों के लिए एक ही पॉलिसी अनुकूल होगी
  • परिवार फ्लोटर स्वास्थ्य प्लान में समस्त बीमा कवर परिवार के सभी सदस्यों में किसी भी निशिचित अनुपात में विभाजित नहीं होता है
  • जीवा बीमा परिषद् वह प्राधिकारी संस्था है जो सभावित वार्षिक वृद्धि से सबंध है तथा जिसे लाभ विवरण में विभाजित किया जाता है
  • यदि तथ्यों की प्राप्ति के पश्चात् यह तथ्य पता लगता है की आय का परिवर्तन व बालक शिक्षा का विश्लेषण होता है तथा ग्राहक केवल बच्चे के प्लान के लिए कहता है तो अभ्क्र्ता को वाही प्लान देना चाहिए तथा कुछ समय बाद में अभिकर्ता के पास पुन: जाना चाहिए
  • लाभ विवरणी में यूलिप प्लान द्वारा अभिकर्ता को प्राप्त कमीशन का उल्लेख होता है
  • एक विधवा जिसके बच्चे है तथा जिसने पास पति द्वारा छोड़ी गई अच्छी खासी वसीयत है वह प्रोपर्टी खरीदने को अपनी उच्च प्राथमिकता देगी
  • तथ्य प्राप्ति का उद्देश्य वर्तमान पॉलिसी को सरेंडर करना व नयी पॉलिसी लेनी नहीं है
  • तथ्य प्राप्ति में यदि युगल पता है कि उन्हें सम्पति खरीदने की योजन बनाने की आवश्कता है ग्राहक सेवानिव्रती के चरण में हो सकता है
  • तथ्य प्राप्ति के दौरान ग्राहक की आवश्यकताओ को जानने के पश्चात् अगला कदम ग्राहक की आवश्कताओ को मात्रात्मकता देना है
  • मुक्त प्रशन ग्राहक से सुचना प्राप्त करने के लिए बहुत उपयोगी है
  • ग्राहक को दिय गए लाभ विवरणी में ग्राहक 6% व् 10% लाभ के दर में सभावित मानना है
  • बीमा बीमित को वितीय लक्ष्यों को संरक्षित करता है
  • जब व्यक्ति सेवानिव्र्ट होने के चरण में होता है तो उसे सम्पति खरीदने आदि की योजना बनाने की आवश्यकता है

 

अगले अध्याय के लिए यहा क्लिक करे

Similar Posts: