Que. 1 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि
   2.  रिजर्व का सृजन नहीं
   3.  निरंतर बीमायोग्यता का संतोषयुक्त प्रमाण
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 2 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि नहीं
   2.  रिजर्व का सृजन
   3.  निरंतर बीमायोग्यता का संतोषयुक्त प्रमाण
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 3 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि नहीं
   2.  जिस प्रीमियम की देय तिथि अधिक हो गई उसका ब्याज सहित भुगतान
   3.  निरंतर बीमायोग्यता का संतोषयुक्त प्रमाण
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 4 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि
   2.  जिस प्रीमियम की देय तिथि अधिक हो गई उसका ब्याज सहित भुगतान
   3.  निरंतर बीमायोग्यता का संतोषयुक्त प्रमाण
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 5 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि नहीं
   2.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि नहीं
   3.  बकाया ऋण का भुगतान
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 6 : एक पॉलिसी का पुनरुद्धार बीमित का बिना शर्त का अधिकार है इसे केवल कुछ शर्तों के तहत पूरा किया जा सकता है :
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि
   2.  जिस प्रीमियम की देय तिथि अधिक हो गई उसका ब्याज सहित भुगतान
   3.  बकाया ऋण का भुगतान
   4.  उपरोक्त सभी
Que. 7 : _____________________________: बीमित को कोई भी बकाया ऋण का भुगतान करना होगा और कोई मौजूद ऋणग्रस्तता को बहाल करना चाहिए।
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में कोई वृद्धि नहीं
   2.  रिज़र्व की रचना
   3.  निरंतर बीमयोग्यता का संतोषपूर्ण प्रमाण
   4.  विशिष्ट समय अवधि के भीतर पुनरुद्धार हेतु आवेदन
Que. 8 : __________:पॉलिसी के मालिक को बहाली के लिए प्रावधान के अनुसार समय सीमा के भीतर पुनरुद्धार आवेदन को पूरा करना होगा. भारत में पुनरुद्धार एक विशिष्ट समय अवधि के भीतर किया जाना चाहिए, जैसे रद्द होने की तारीख से पांच साल, के भीतर।
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में कोई वृद्धि नहीं
   2.  रिज़र्व की रचना
   3.  निरंतर बीमयोग्यता का संतोषपूर्ण प्रमाण
   4.  विशिष्ट समय अवधि के भीतर पुनरुद्धार हेतु आवेदन
Que. 9 : ______________: पॉलिसी मालिक को प्रत्येक प्रीमियम की देय तिथि से ब्याज के साथ सभी अतिदेय प्रीमियम का भुगतान करना आवश्यक है।
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में कोई वृद्धि नहीं
   2.  देय प्रीमियम का ब्याज के साथ भुगतान
   3.  बकाया ऋण का भुगतान
   4.  विशिष्ट समय अवधि के भीतर पुनरुद्धार हेतु आवेदन
Que. 10 : _________________________: बीमित को पॉलिसी के किसी भी प्रकार के बकाया ऋण का भुगतान या किसी अन्य ऋणग्रस्तता को समाप्त करना चाहिए।
   1.  बीमा कंपनी के लिए जोखिम में वृद्धि नहीं
   2.  जिस प्रीमियम की देय तिथि अधिक हो गई उसका ब्याज सहित भुगतान
   3.  बकाया ऋण का भुगतान
   4.  विशेष समय अवधि के भीतर पुनरुद्धार आवेदन

Similar Posts: