IC38 Marathi Chapter 4 Notes

अध्याय 4   बीमा एजेंट के विनियामक पहलू

बीमा एजेंट के विनियम:

बीमा एजेंट नियुक्ति विनियम 1 अप्रैल 2016 से प्रभावी हुआ

  • किसी भी व्यक्ति के लिए बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए नियुक्ति पत्र जारी किया जाता है ।
  • बीमा एजेंट का अर्थ है एक बीमा कंपनी द्वारा नियुक्त एक व्यक्ति जिसका कार्य पालिसियों की खरीद करवाना, उनका नवीकरण या बीमा पालिसी का पुनर्नवीनीकरण करना है ।
  • समग्र बीमा एजेंट से तात्पर्य उस व्यक्ति से है जो दो या दो से अधिक बीमा कंपनियों द्वारा एजेंट के रूप में नियुक्त किया जाता है किन्तु उस पर यह शर्त होती है कि वह जीवन बीमा कंपनी , सामान्य बीमा कंपनी, स्वास्थ्य बीमा कंपनी, मोनोलाईन स्वास्थ्य कंपनी में से एक से अधिक कम्पनियों हेतु कार्य नहीं करेगा।
  • एजेंटो की केंद्रीकृत सूचना का अर्थ एजेंटो की उस सूची से है जो प्रार्धिकरण द्वारा बनाई जाती है जिसमें बीमा कम्पनी द्वारा नियुक्त किए गए एजेंटो के समस्त विवरण होते हैं।
  • नामित/प्राधिकृत अधिकारी से तात्पर्य उस अधिकारी से है जो एजेंट को नियुक्त करने हेतु प्राधिकृत होता है।
  • बीमा कंपनी में एक बीमा एजेंट के रूप में नियुक्ति हेतु एक व्यक्ति को बीमा कंपनी के नामित/प्राधिकृत अधिकारी के समक्ष फॉर्म I-A के द्वारा आवेदन करना होगा।
  • एक प्राधिकृत अधिकारी को किसी भी व्यक्ति को एजेंट के रूप में नियुक्ति न प्रदान करने का कारण आवेदन प्राप्ति के 21 दिनों के अंतर्गत आवेदक को सूचित करना आवश्यक होगा ।

बीमा कंपनी द्वारा समग्र बीमा एजेंट की नियुक्ति

  • एक आवेदक द्वारा समग्र बीमा एजेंट के रूप में नियुक्ति के लिए जीवन, सामान्य , स्वास्थ्य बीमा, मोनोकलाइन इत्यादि से संबद्ध आवेदन करना होगा ।
  • समग्र एजेंट को I-B आवेदन पत्र भरना होगा।

बीमा कंपनी परीक्षा

एक आवेदक को बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए परीक्षा निक्य द्वारा आयोजित जीवन, सामान्य, स्वास्थ्य  आदि विषयों में परीक्षा देना होगा ।

बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने की निर्हरता/अयोग्यता :

अयोग्यता की शर्तें अधिनियम की धारा 42 (3) के अंतर्गत उल्लेखेनीय हैं ।

धडा ४ विमा एजेंटच्या विनियम बाजू

 विमा प्रतिनिधी चे विनियमन

विमा एजेंट नियुक्ती विनियम ०१ एप्रिल २०१६ पासून प्रभावी झाली .

  • कोणत्याही व्यक्तीला विमा प्रतिनिधी च्या स्वरूपात काम करण्यासाठी नियुक्ती पत्र लागू केले जाते .
  • विमा प्रतिनिधी चा अर्थ आहे कि , एका विमा कंपनी कडून नियुक्त व्यक्ती ज्याचे कार्य पॉलिसीची विक्री करणे , तिचे नवीकरण करणे , पॉलिसीचे पुनर्निर्माण करणे आहे .
  • समग्र विमा एजेंट चे तात्पर्य असे कि , ती व्यक्ती दोन वा दोन पेक्षा जास्त विमा कंपनी कडून विमा कंपनी कडून नियुक्त केले जाते . पण त्यावर ही अट असते कि , तो जीवन विमा कंपनी , सामान्य जीवन विमा , आरोग्य विमा कंपनी , मोनोलाईन आरोग्य कंपनी पैकी एका पेक्षा जास्त कंपनी करिता कार्य नाही करणार .
  • एजेंट च्या केंद्रीकृत सूचनेचा अर्थ एजेंट च्या यादीशी आहे जी प्राधिकरणा कडून बनवली जाते ज्यात विमा कंपनी द्वारे नियुक्त सर्व एजेंट चा संपूर्ण तपशील असतो .
  • प्राधिकरण अधिकारी म्हणजे तो अधिकारी असतो जो एजेंटची नियुक्ती करण्यासाठी प्राधिकृत असतो
  • विमा कंपनीत विमा प्रतिनिधी म्हणून नियुक्त व्यक्तीला विमा कंपनीच्या प्राधिकृत अधिकारी समक्ष अर्ज IA च्या माध्यमातून निवेदन करावे लागेल .
  • कोणत्याही व्यक्तीस एजेंटच्या स्वरूपात नियुक्ती बहाल करण्याचे कारण निवेदन मिळण्याच्या २१ दिवसाच्या आत प्राधिकृत अधिकाऱ्यास अर्जदारास सूचित करावे लागेल .
  • विमा कंपनी द्वारे समग्र विमा एजेंटची नियुक्ती
  • एका अर्जदार करवी समग्र विमा एजेंटच्या स्वरूपात नियुक्ती करिता जीवन , सामान्य , आरोग्य विमा , मोनोक लाईन इत्यादी  संबंधित अर्ज करावे लागतात . सर्व एजेंट ला IB अर्ज भरावे लागतील .
  • विमा कंपनी परीक्षा
  • एका अर्जदारास विमा कंपनी एजेंटच्या स्वरूपात कार्य करण्यासाठी परीक्षा नियमय द्वारे आयोजित परीक्षा . जीवन , सामान्य , आरोग्य इत्यादी विषयात परीक्षा द्यावी लागेल .
  • विमा एजेंटच्या स्वरूपात कार्य करण्यातील अयोग्यता
  • विमा एजेंटच्या स्वरूपात कार्य करण्यातील अयोग्यता च्या अटी अधिनियम धारा ४२ [३] च्या अंतर्गत उल्लेखलेल्या आहेत .