Menu Close

IC38 Hindi Chapter Notes 4


बीमा एजेंट के विनियम:


बीमा एजेंट नियुक्ति विनियम 1 अप्रैल 2016 से प्रभावी हुआ

  • किसी भी व्यक्ति के लिए बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए नियुक्ति पत्र जारी किया जाता है ।
  • बीमा एजेंट का अर्थ है एक बीमा कंपनी द्वारा नियुक्त एक व्यक्ति जिसका कार्य पालिसियों की खरीद करवाना, उनका नवीकरण या बीमा पालिसी का पुनर्नवीनीकरण करना है ।
  • समग्र बीमा एजेंट से तात्पर्य उस व्यक्ति से है जो दो या दो से अधिक बीमा कंपनियों द्वारा एजेंट के रूप में नियुक्त किया जाता है किन्तु उस पर यह शर्त होती है कि वह जीवन बीमा कंपनी , सामान्य बीमा कंपनी, स्वास्थ्य बीमा कंपनी, मोनोलाईन स्वास्थ्य कंपनी में से एक से अधिक कम्पनियों हेतु कार्य नहीं करेगा।
  • एजेंटो की केंद्रीकृत सूचना का अर्थ एजेंटो की उस सूची से है जो प्रार्धिकरण द्वारा बनाई जाती है जिसमें बीमा कम्पनी द्वारा नियुक्त किए गए एजेंटो के समस्त विवरण होते हैं।
  • नामित/प्राधिकृत अधिकारी से तात्पर्य उस अधिकारी से है जो एजेंट को नियुक्त करने हेतु प्राधिकृत होता है।
  • बीमा कंपनी में एक बीमा एजेंट के रूप में नियुक्ति हेतु एक व्यक्ति को बीमा कंपनी के नामित/प्राधिकृत अधिकारी के समक्ष फॉर्म I-A के द्वारा आवेदन करना होगा।
  • एक प्राधिकृत अधिकारी को किसी भी व्यक्ति को एजेंट के रूप में नियुक्ति न प्रदान करने का कारण आवेदन प्राप्ति के 21 दिनों के अंतर्गत आवेदक को सूचित करना आवश्यक होगा ।

बीमा कंपनी द्वारा समग्र बीमा एजेंट की नियुक्ति

  • एक आवेदक द्वारा समग्र बीमा एजेंट के रूप में नियुक्ति के लिए जीवन, सामान्य , स्वास्थ्य बीमा, मोनोकलाइन इत्यादि से संबद्ध आवेदन करना होगा ।
  • समग्र एजेंट को I-B आवेदन पत्र भरना होगा |

बीमा कंपनी परीक्षा

एक आवेदक को बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए परीक्षा निक्य द्वारा आयोजित जीवन, सामान्य, स्वास्थ्य  आदि विषयों में परीक्षा देना होगा ।

बीमा एजेंट के रूप में कार्य करने की निर्हरता/अयोग्यता :

अयोग्यता की शर्तें अधिनियम की धारा 42 (3) के अंतर्गत उल्लेखेनीय हैं ।

Similar Posts:

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Malayalam Marathi Punjabi Tamil Telugu Urdu